क्या 2024 में भी निफ्टी 50 में तेजी रहेगी ? कौन-कौन से सेक्टर्स में तेजी रहेगी ? इस विदेशी फर्म ने कर दी भविष्यवाणी

Written by Team Sarkari Aadmi

Published on:

पिछले साल यानी 2023 में शेयर बाजार ने काफी सारे रिकॉर्ड बनाए. निफ्टी-50 और सेंसेक्‍स में जबरदस्‍त तेजीदेखने को मिली . निफ्टी ने जहां करीब 20 फीसदी का रिटर्न दिया, वहीं सेंसेक्‍स में पिछले सालभर में 18 फीसदी के करीब तेजी रही. अब नए साल 2024 में निफ्टी-50 कहां तक जाएगा ? क्‍या पिछले साल की तरह ही इस साल भी शेयर बाजार निवेशकों को मालामाल करने वाला है ? ये कुछ ऐसे सवाल हैं, जिनका जवाब शेयर बाजार में अपना पैसा लगाने वाला हर व्‍यक्ति खोज रहा है. अब इन सवालों के जवाब जापानी ब्रोकरेज फर्म नोमुरा ने दे दिया है. नोमुरा ने न केवल यह बताया है कि निफ्टी कहाँ तक जायेगा , बल्कि साथ ही उन सभी सेक्‍टर्स की भी जानकारी दी है जहां से अच्‍छी कमाई होने की संभावनाएं हैं.

ब्रोकरेज फर्म नोमुरा का यह अनुमान है कि साल 2024 में भी शेयर बाजार निवेशकों को अच्‍छा मुनाफादेने वाला है , लेकिन इस साल का मुनाफा 2023 में हुए मुनाफे के मुकाबले कम रह सकता है. ब्रोकरेज फर्म का कहना है कि इस साल निफ्टी साल के अंत तक 24 हजार का लेवल पार कर सकता है. नोमुरा के अनुसार निफ्टी 50 इस साल 12 फीसदी का औसतन रिटर्न अपने निवेशकों को दे सकता है. पिछले साल निफ्टी-50 करीब 20 फीसदी बढ़ा था.

कहां तक जाएगा निफ्टी-50

नोमुरा की रिपोर्ट के अनुसार निफ्टी इस साल के अंत तक 24260 का लेवल टच कर सकता है. ब्रोकरेज फर्म का अनुमान है कि इस साल महंगाई दर और यील्ड में भी नरमीरहने की सम्भावना है , दुनिया भर की अर्थव्यवस्थाओं में स्लोडाउन एक सीमा के अंदर ही रहेगा, कमोडिटी और क्रूड के प्राइस स्थिर रहेंगी और भारत में लोकसभा चुनावों के नतीजे सकारात्मक रहेंगे. इन सभी वजहों से शेयर बाजार में तेजी आएगी. नोमुरा का कहना है कि इस साल में छोटे टाइम पीरियड में अगर कोई करेक्शन आता है तो उसे निवेश के मौके के रूप में देखना चाहिए.

कैपिटल एक्सपेंडिचर आर्थिक ग्रोथ का आधार

साथ ही नोमुरा की रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत की वैल्यूएशन हाई ही बनी रह सकती है और इससे अर्थव्यवस्था में मजबूती, आय को लेकर अच्छे संकेतों और मजबूत निवेश प्रवाह को मदद मिलेगी. सरकार के द्वारा जो कैपिटल एक्सपेंडिचर बढ़ाया जा रहा है वो आर्थिक ग्रोथ का आधार बना हुआ है. हालांकि चिंता का विषय है की प्राइवेट कैपेक्स अभी भी तेजी नहीं पकड़ पा रहा है.

कहां से होगी कमाई

ब्रोकरेज फर्म नोमुरा ने कहा कि अच्छे संकेतों को देखते हुए कोई भी करेक्शन होता है वो निवेश का मौका साबित हो सकता है. नोमुरा ने बैंकों, हेल्थकेयर, कंज्यूमर स्टेपल्स, इंफ्रा, सीमेंट, पावर, कोल, ऑयल एंड गैस और टेलीकॉम को ओवरवेट रेटिंग दी हुई है. वहीं कंज्यूमर ड्यूरेबल्स, कैपिटल गुड्स, डिफेंस, मेटल्स और आईटी को अंडरवेट कैटेगरी में रखा हुआ है. ऑटो पर नोमुरा ने अपना रुख सिलेक्टिव रखा है.

ब्रोकरेज फर्म नोमुरा ने लार्ज कैप में आईसीआईसीआई बैंक, गोदरेज कंज्यूमर, एमएंडएम, एलएंडटी और रिलायंस इंडस्ट्रीज पर अपना भरोसा जताया है. वहीं स्मॉल और मिड कैप में कोफोर्ज, ल्यूपिन, मेडप्लस हेल्थ, डालमिया भारत, फेडरल बैंक और सन्सेरा इंजीनियरिंग नोमुरा की टॉप सेलेक्शन्स में शामिल हैं.

(Disclaimer: यहां बताए हुए सभी स्‍टॉक्‍स ब्रोकरेज हाउसेज की सलाह पर आधारित हैं. यदि आपलोग इनमें से किसी भी स्टॉक में पैसा लगाना चाहते हैं तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से राय जरूर लें . आपके किसी भी प्रकार की लाभ या हानि के लिए SarkariAadmi.com जिम्मेदार नहीं होगा.)

Leave a Comment